(Model Paper) UP Board: Hindi A Class X Model Test Paper Year 2011

प्रतिदर्श प्रश्नपत्र - 2011
प्रारम्भिक हिन्दी - कक्षा- X

समय- तीन घण्टें
पूर्णाक-100

(1-क) शुक्ल युग के किन्ही दो निबन्धकारों के नाम लिखिए। (1+1=2)
(ख) शुक्लोत्तर युग के किन्हीं दो समालोचकों के नाम लिखिए तथा उनकी एक-एक रचना का नाम लिखिए। (1½+1½=3)

(2-क) रीतिकाल की निम्नलिखित रचनाओं में से किन्ही दो रचनाओं के कवि के नाम लिखिए। (1½+1½=3)
कविप्रिया, रसराज, शिवराज-भूषण, गंगा लहरी।
(ख) ’कामायनी’ तथा ’साकेत’ के रचनाकारो के नाम लिखिए। (1+1=2)

(3) आज विज्ञान मनुष्य्या के हाथों में अदभुत और अतुल शक्ति द रहा है, उसका उपयागे एक व्यक्ति और समहू के उत्कर्ष और दूसरे व्यक्ति और समहू के गिराने में होता ही रहेगा । इसलिए हमें उस भावना को जाग्रत रखना है और उसे जाग्रत रखने के लिए कुछ ऐसे साधनो को भी हाथ में रखना होगा, जो उस अहिंसात्मक त्याग-भावना को प्रोत्साहित करें और भोग-भावना को दबाये रखे। नैतिक अंकुश के बिना शक्ति मानव के लिए हितकर नहीं होती। वह नैतिक अंकुश यह चेतना या भावना ही दे सकती है।
क- उपरोक्त गद्यांश का सन्दर्भ लिखिए। (2)
ख- रेखांकित अंश का अर्थ लिखिए। (8)
ग- मनुष्य विज्ञान का उपयोग किस प्रकार करता है ? (2)

अथवा

कुसगं का ज्वर सबसे भयानक होता है। यह केवल नीति और सद्वृत्ति का ही नाश नहीं करता, बल्कि बद्धि का भी क्षय करता है। किसी युवा पुरूष की संगति यदि बुरी होगी तो वह उसके पैरौ में बँधी चक्की के समान होगी जो उसे दिन-दिन अवनति के गडढ में गिराती जायेगी और यदि अच्छी होगी तो सहारा देने वाली बाहु के समान होगी जो उस निरन्तर उन्नति की ओर उठाती जायेगी।
क- उपरोक्त गद्यांश का सन्दर्भ लिखिए। (2)
ख- रेखांकित अंश का अर्थ लिखिए। (8)
ग- कुसंग का ज्वर कैसा होता है ? (2)

(4) निम्नलिखित पद्यांश् का सन्दर्भ सहित अर्थ लिखिए: (2+10=12)
मैया हौं न चरैहौं गाइ ।
सिगरे ग्वाल घिरावत मोसो, मेरे पाई पिराइँ ।
जौन प्रत्याहि पूछि बलदाउहिं, अपनी सौहँ दिवाइ ।
यह सुनि माइ जसोदा ग्वालनि, गारी देति रिसाइ ।
मै पठवति अपने लरिका कौ, आवै मन बहराइ ।
सूर स्याम मेरौ अति बालक, मारत ताहि रिंगाइ ।

अथवा

अतुलनीय जिनके प्रताप का, साक्षी है प्रत्यक्ष दिवाकर ।
घमू -घमू कर देख चुका है, जिनकी निर्मल कीर्ति निशाकर ।।
देख चुके हैं जिनका वैभव, ये नम के अनन्त तारागण ।
अगणित बार सुन चुका है नभ, जिनका विजय-घोष रण-गर्जन।।

(5) निम्नलिखित अवतरण का सन्दर्भ सहित हिन्दी में अनुवाद कीजिए: (2+6= 8)
एकदा बहवः जनाः धूम्रयानम  आरूद्दय नगरं प्रति गच्छन्ति स्म। तेषु केचित ग्रामीणाः केचिच्च
नागरिकाः आसन् । मौनं स्थितेषु तेषु एकः नागरिकः गा्रमीणान् उपहसन् अकथयत् ग्रामीणाः
अद्यापि पूर्ववत् अशिक्षिताः अज्ञाश्च सन्ति। न तेषां विकास अभवत् न च भवितुं नशक्नोति ।’’
तस्य तादृशं जल्पनं श्रुत्वा कोउपि चतुरः ग्रामीणः अब्रवीत्, ’’भद्र नागरिक ! भवान् एवं
किंचित् ब्रतीतु, यतो हि भवान् शिक्षितः बहुज्ञः च अस्ति।’’

अथवा

रे रे चातक! सावधानमनसा मित्र! क्षणं श्रूयताम् ।
अम्मोदा बहवो सन्ति गमने सर्वेऽपि नेतादृशाः ।।
केचिद् वृष्टिमिरार्द्रयन्ति वसुधां गर्जन्ति केचिद् वृथा ।
यं यं पश्यसि तस्य तस्य पुरतो मा ब्रूहि दीनं वचः ।।

(ख) निम्नलिखित में से किन्ही दो प्रश्नो के उत्तर संसकृत में लिखिए। (1+1= 2)

  1. वातात् शीघ्रतंर किम् अस्ति ?
  2. तृणात् बहुतंर किम् अस्ति ?
  3. वाराणसी नगरी कुत्रं स्थिता अस्ति ?
  4. अनृतं केन जयेत् ?

(6-क) निम्नलिखित में से किसी एक लेखक का संक्षप्त जीवन परिचय दीजिए: (4)

  1. आचार्य रामचन्द्र शुक्ल
  2. जयशंकर प्रसार
  3. डा0 राजेन्द्र प्रसाद

(ख) निम्नलिखित में किसी एक कवि का संक्षप्त जीवन परिचय दीजिएः (4)

  1. सूरदास
  2. तुलसीदास
  3. सुभद्रा कुमारी चैहान

(7-क) करुण अथवा हास्य रस की परिभाषा देते हुए उदाहरण लिखिए। (4)
(ख) उपमा अथवा रूपक अलंकार की परिभाषा उदाहरण सहित लिखिए। (4)
(ग) दोहा अथवा चैपाई छन्द के लक्षण उदाहरण सहित लिखिए। (4)

(8-क) निम्नलिखित में से किसी एक पद का समास-विग्रह कीजिए तथा समास का नाम लिखिए: (2)
कुपुत्रः, महात्मा, पीताम्बरः ।
(ख) निम्नलिखित लोकोक्तियों तथा मुहावरों में से किन्ही दो का अर्थ लिखकर वाक्य में उनका प्रयोग कीजिएः (2+2= 4)

  1. जैसी करनी वैसी भरनी।
  2. ऊँची दूकान फीकी पकवान।
  3. आँख के अंधे का नाम नयनसुख।
  4. आँख चुराना।

(ग) निम्नलिखित में से किसी एक के दो पर्यायवाची शब्द लिखिए। (1+1= 2)
चाँद, फूल, धरती।
(घ) निम्नलिखित शब्दों में से किन्ही तीन के विपरीताथर्क शब्द लिखिए: (1+1+1= 3)
कठोर, अंधकार, आकाश, अधम, अपयश ।
(ड.) निम्नलिखित शब्दों में से किन्ही दो की पहचान करके लिखिए। कि वे किस प्रकार के शब्द (तत्सम या तद्भव) है: (2)
दुग्ध, सूर्य, पूरब, दिन, पत्र ।
(च) निम्नलिखित वाक्यांशों में से किसी एक के लिए एक शब्द लिखिए: (2)

  1. ईश्वर में विश्वास रखने वाला।
  2. जिसका आचार अच्छा हो।
  3. शरण में आया हुआ।

(9-क) निम्नलिखित में से किसी एक सन्धि विच्छदे कीजिए आरै सन्धि के नाम भी लिखिए: (2)
प्रत्येक, स्वागतम्, सदैव
(ख) ’फल’ अथवा ’मति’ शब्द का तृतीया विभक्ति एकवचन का रूप लिखिए। (1)
(ग) ’युष्मद्’ अथवा ’तत्’ शब्द का द्वितीया विभक्ति एकवचन का रूप लिखिए। (1)
(घ) ’पच्’ अथवा ’पठ’ धातु के लट् लकार, मध्यम पुरूष के एकवचन तथा द्विवचन के रूप लिखिए। (2)

(10) निम्नलिखित विषयें में से किसी एक पर निबन्ध लिखिए: (15)

  1. विज्ञान के चमत्कार
  2. सार्वजनिक क्षेत्र में कम्प्यूटर का महत्व
  3. राष्ट्रीय विकास एवं युवा शक्ति
  4. जनसंख्यावृद्धि एवं पर्यावरण
  5. बेरोजगारी समस्या और समाधान